Odisha News: ओडिशा की जनता को CM पटनायक ने दी बड़ी सौगात, 4.13 लाख लोगों को मिलेगा मधु बाबू पेंशन योजना का लाभ

LSChunav     Aug 08, 2023
शेयर करें:   
Odisha News: ओडिशा की जनता को CM पटनायक ने दी बड़ी सौगात, 4.13 लाख लोगों को मिलेगा मधु बाबू पेंशन योजना का लाभ

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने राज्य की जनता को बड़ा तोहफा दिया है। सीएम पटनायक ने एक बार में अतिरिक्त 4.13 आवेदकों के लिए मधु बाबू पेंशन को मंजूरी दे दी है। इस योजना के तहत अविवाहित महिलाएं, वृद्ध, विधवाएं, एड्स रोगी, ट्रांसजेंडर व्यक्ति, कोविड प्रभावित परिवारों के अनाथ बच्चों को सहायता दी जाती है।

ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने राज्य की जनता को बड़ा तोहफा दिया है। बता दें कि उन्होंने एक बार में अतिरिक्त 4.13 आवेदकों के लिए मधु बाबू पेंशन को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा सीएम कार्यालय के अधिकारियों ने राज्य का दौरा किया। साथ ही प्राप्त शिकायतों और 'मो सरकार' से प्राप्त फीडबैक को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री पटनायक ने मधु बाबू पेंशन योजना को मंजूरी दे दी है। मधु बाबू पेंशन योजना का लक्ष्य बढ़ाकर 32.75 लाख रुपए कर दिया गया। पहले इस योजना के तहत 28.61 लाख लाभार्थियों को इसका लाभ मिल रहा था।


आधिकारिक सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस दौरान नए स्वीकृत लाभार्थियों को पेंशन की पहली राशि 15 अगस्त 2023 को मिल जाएगी। 15 अगस्त के दिन जनसेवा दिवस पर ग्राम पंचायत मुख्यालय या वार्ड कार्यालयों में निर्वाचित प्रतिनिधियों की उपस्थिति में लाभार्थियों को पेंशन दी जाएगी। इसके अलावा लाभार्थियों को पेंशन का सुचारू वितरण करवाए जाने की सलाह सभी कलेक्टरों को दी गई है।


ओडिशा राज्य सरकार एमबीपीवाई के तहत 28.61 लाख लाभार्थियों को हर महीने 500 रुपए, 700 रुपए और 900 रुपए की सामाजिक सुरक्षा पेंशन देती है। इस योजना का लाभ विकलांग, अविवाहित महिलाएं, ठीक हो चुके कुष्ठ रोगी, वृद्ध, विधवाएं, एड्स रोगी, ट्रांसजेंडर व्यक्ति, कोविड प्रभावित परिवारों के अनाथ बच्चे, तलाकशुदा/निराश्रित और अन्य कमजोर लोगों को दिया जा रहा है। 


राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजना के तहत 0-79 वर्ष की आयु के बीच के लाभार्थियों को 500 रुपए हर महीने पेंशन दी जाती है। जबकि 80 साल और उससे अधिक आयु के लोगों को 700 रुपए हर माह दिए जाते हैं। वहीं 40 से 59 फीसदी विकलांगता वाले लाभार्थियों को हर महीने 500 रुपए महीने और 60 फीसदी या उससे अधिक विकलांग लोगों को 700 रुपए हर महीने दिए जाते हैं। इसके अलावा 60 फीसदी या उससे अधिक विकलांगता वाले और 80 साल व उससे अधिक आयु के लोगों को 900 रुपए हर महीने दिए जाते हैं।